एफिलिएट मार्केटिंग क्या है? लाखो रु कमाने का बिज़नस आईडिया Affiliate marketing in Hindi

Affiliate marketing in Hindi, Affiliate Marketing kya hai? कैसे एफिलिएट मार्केटिंग बिज़नेस शुरू करें? step by step process.,जानिए पूरी जानकारी आसान भाषा में!

एफिलिएट मार्केटिंग (What is affiliate marketing in Hindi) एक ऐसी प्रक्रिया है जो आपको एक नया पैसिव इनकम (Passive Income) का स्रोत बनाकर दे सकता है और आप इससे अच्छी कासी कमाई कर सकते है. एफिलिएट मार्केटिंग आप केलिए एक कमाल का Online Business Idea साबित हो सकता है.

पैसिव इनकम (Passive Income) रखना ये आज कल की दुनिया मै बहुत ज्यादा जरुरी हो गया है. एक ही इनकम पर निर्भर रहना आपका सबसे गलत आर्थिक फैसला होगा.

तो आईये देखते है एफिलिएट मार्केटिंग क्या है?

एफिलिएट मार्केटिंग क्या है?(Affiliate Marketing in Hindi)

Affiliate marketing in Hindi

जब आप दुसरो की उत्पादनों का बढ़ावा करते है या प्रमोट (promote) करते है और उस उत्पादन की बिक्री होती है तो आपको उस बिक्री के दाम मै से थोड़ा कमिशन मिलता है और इस पूरी प्रक्रिया को एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate Marketing in Hindi) कहा जाता है.

यह revenue sharing पर आधारित है. अगर आपके पास कोई उत्पादन है और आपको उसकी ज्यादा से ज्यादा बिक्री करानी है तो आप एफिलिएट मार्केटर्स या प्रमोटर्स को इंसेंटिव देखर आपने काम करवा सकते और इससे अच्छा खासा मार्जिन निकलवा सकते है.

सबसे अच्छी २१+ ऑनलाइन बिज़नेस आईडिया (Online Business Ideas)

Affiliate Marketing kya hai? और उसके हिस्से

एफिलिएट मार्केटिंग की पूरी प्रक्रिया को हम चार हिस्सों मै बांट सकते है. इसमें शामिल है विक्रेता, एफिलिएट, नेटवर्क और उपभोक्ता.

1. विक्रेता (Merchant)

इसे हम सौदागर, निर्माता और ब्रांड भी कह सकते है. यह वो समूह है जो प्रोडक्ट को बनाते है. यह कोई बहुत बड़ी कंपनी हो सकती जैसे TATA मोटर्स या कोई प्रोफेसर जो अपने ऑनलाइन कोर्सेज की बिक्री करना चाहता हो. जब तलग आपके पास एक प्रोडक्ट बेचने केलिए हो तब तलग आपको विक्रेता कह सकते है.

2. एफिलिएट (affiliate)

यह लेख जिस विषय (affiliate marketing in hindi) पर आधारित है उसे करने वाले व्यक्ति को एफिलिएट(Affiliate) कहा जाता है. यह एक व्यक्ति भी हो सकता है या फिर पूरी की पूरी एक कंपनी भी हो सकती है. अगर सही तरीके से किया तो यह एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate marketing in Hindi) का बिज़नेस लाखों या करोडो का भी बन सकता है.

यहाँ पर सही मायने पर मार्केटिंग होता है. एफिलिएट वो व्यक्ति है जो एक या अनेक प्रोडक्ट्स का प्रमोशन करता है और उत्भोक्ताहों को यह बताने की कोशिश करता है की उसका प्रोडक्ट क्यों अच्छा है और उन्हें इसे  क्यों करिधना चाईए. यह लक्ष हम review blog के द्वारा हासिल कर सकते है.

उदहारण के लिए हम audiophilestyle.com को ले सकते है.  इस ब्लॉग मै प्रोडक्ट्स को उप्भोक्ता के नजरिये से बताया जाता है. इसमें कुंभिया और कमिया दोनों का वर्णन किया है ताकि जो भी इसे पढ़े उसके सामने सारा सच साबित हो जाये और वो अपना फैसला आसानी से कर सके. एफिलिएट के लिए आप एक पूरी वेबसाइट समर्पित कर सकते है जिसपे आप अलग अलग प्रोडक्टस का review दाल सके.

3. नेटवर्क (Network)

एफिलिएट नेटवर्क, विक्रेता और एफिलिएट को जोड़ता है. कुछ लोग मानते है की नेटवर्क का एफिलिएट मार्केटिंग मै ज्यादा महत्व नहीं है लेकिन आप अगर एक नए एफिलिएट है और आपको यह पता नहीं है की कौन कौन से ऐसे कम्पनीज है जो एफिलिएट मार्केटिंग का सहारा लेती है तो आप एफिलिएट नेटवर्क को ध्यान मै ले सकते है.

एफिलिएट नेटवर्क एक ऐसा प्लेटफार्म है जो आपको वहा पे लिस्टेड प्रोडक्ट्स के बिक्री के लिए कमिशन देता है. आपको वहा से सिर्फ लिंक उठाना होता है और उसे अपने ब्लॉग मै लिखे गए सम्बंदित रिव्यु मै add करना होता है.  अगर किसीने आपके लिंक पर से क्लिक करके उस प्रोडक्ट को खरीदा तो आपको उस प्रोडक्ट का कमीशन एफिलिएट नेटवर्क देता है.

उदाहरण के तौर पे  Amazon Associates, Clickbank ऐसे तरह तरह के websites है जो affiliate network partner है. जो नए एफिलिएट है वो Amazon Affiliate Marketing कर सकते है क्यूंकि यह बहुत आसान है और Amazon पर आपको तरह तरह के प्रोडक्टस आसानी से मिल जाते है जिसपर आप रिव्यु कर प्रोडक्ट की बिक्री कर सकते है और पैसे कमा सकते है.

4. उपभोक्ता (Consumer)

अगर उपभोक्ता है तोही विक्रेता है और विक्रेता है तो एफिलिएट मार्केटिंग है. उपभोक्ता के बिना पैसा कमाना काफी कठिन है और अगर पैसे की कमी है तो कमिशन भी नहीं मिल सकता है. एक एफिलिएट किसी भी माध्यम से अपने प्रोडक्ट्स की बिक्री करवा सकता है.

उसमे social media, video platform या फिर content marketing जिसमे रिव्यु ब्लॉग शामिल होता है. यह एक एफिलिएट तय करता है की उसे अपनी प्रक्रिया लोगो के सामने मै पारदर्शक रखना है या नहीं. कुछ एफिलिएट इसे पारदर्शक रखते है जिसके कारन कंस्यूमर पूरी payment की प्रक्रिया को देख सकते है और जान सकते है की एफिलिएट इस प्रोडक्ट से कितना कमा रहा है.

और कुछ एफिलिएट इससे पारदर्शक नहीं रखते जिसके कारन कंस्यूमर को सिर्फ रिटेल प्राइस दिखाई देती है लेकिन उसे यह नहीं पता होता की उस रिटेल प्राइस पर एफिलिएट का कमीशन पाहिले से ही लगा हुआ होता है.

बस ४ स्टेप में एफिलिएट मार्केटर बने….

अभी हमने यह तो जान लिया है की एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate marketing in Hindi) होता क्या है, अभी हम यह जानेंगे की एफिलिएट मार्केटिंग की शुरुवात कैसे करे? (How to start affiliate marketing in Hindi). तो आइये जानते है की ४ आसान स्टेप्स मै आप एफिलिएट मार्केटर कैसे बन सकते है.

1. अपने प्रोडक्ट्स का रिव्यु करे (Review your products) – प्रोडक्ट्स रिव्यु करना काफी आसान है और इसमें आपको कोई ज्यादा म्हणत भी नहीं करना पड़ता है. अगर आपने कोई प्रोडक्ट खरीदा हो तो आपको सिर्फ अपने YouTube, Social Media या फिर अपने ब्लॉग में उस प्रोडक्ट का फायदा और नुकसान बताना है.

इस तरह आप रिव्यु कर सकते है, पर आपके मन मै एक सवाल आता है की आपके पास प्रोडक्ट खरीदने के पैसे नहीं है तो रिव्यु कैसे करे? आप अपने दोस्तों या रिश्तेदारों से पूछ सकते की उन्होंने कोई नया प्रोडक्ट खरीदा हो तो उस प्रोडक्ट को लेकर उनकी क्या राय है और वह जानकारी को आप अपने चैनल या ब्लॉग मै पब्लिश कर सकते है.

उदाहरण के तौर पे हम Technical Guruji का यूट्यूब चैनल लेते है, इस चैनल मै वो नए नए Smartphones और gadgets का रिव्यु करते है. एक बार आपका चैनल सेट हो जाये तो Technical Guruji जैसे आपको कम्पनिया सामने से प्रोडक्ट्स लाकर फ्री मै देगी और आपको सिर्फ उस प्रोडक्ट का रिव्यु करना होगा.

सुनने मै काफी मजा आ रहा होगा आप लोगो को पर यह काम भी उतना ही मजेदार है. अगर आपको पुस्तक पड़ना पसंद है तो आप उसका रिव्यु डालकर Amazon kindle मै जो eBooks अवेलेबल है उसका लिंक दे सकते है और एफिलिएट मार्केटिंग द्वारा पैसे कमा सकते है.

2. अपने संभावित उपभोक्ता का ईमेल लिस्ट बनाकर रखे (Create an email list of your potential clients)

ई-मेल मार्केटिंग आपके एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate marketing in Hindi) की पूरी प्रक्रिया मै बड़ा काम आ सकता है. आपके वेबसाइट पर जो भी visit करता है तो आप उसका ईमेल आसानी से ले सकते है. 

Hello Bar ऐसा एक तरीका है जो आपको ईमेल हासिल करने मै बहुत मदत कर सकता है. यह bar आपके वेबसाइट के उपर वाले भाग पर होता है और अगर कोई नया व्यक्ति आपके वेबसाइट पर visit करता है तो उसे ये बार दिखाई देता है.

उस बार पर आप अपने फ्री e-Books का ads कर सकते और अगर किसी को दिचस्पी हुई तो उसे क्लिक करने पर आप उस व्यक्ति को एक नए फॉर्म पर ले जा सकते है जिसके भरने से वो फ्री बुक डाउनलोड कर सकता है.  इस फॉर्म मै नए visitor का नाम और ई-मेल Id आप ले सकते है.

दूसरा तरीका Exit Page के द्वारा किया जा सकता है जो Hello Bar की तरह होता है लेकिन ये पॉपअप आपके वेबसाइट छोडनेके के वक्त आपके सामने आता है.

तीसरा तरीका  है side widget, जो आपके वेबसाइट पेज के एक साइड पर होता है और वहा से आप अपने संभावित उपभोक्ता को fillup फॉर्म पर आसानी से लेकर जा सकते है.

3. वेबिनार होस्ट करे (Host Webinar)

अगर आप अपने संभावित ग्राहकों को आपके प्रोडक्ट्स का live प्रदर्शन दे सके तो उनकी सारी शंकाए दूर हो सकती है और आपके प्रोडक्ट की बिक्री जाड़े पैमाने पर हो सकती है. Google Hangout, Youtube के इस्तेमाल से आप अपने प्रोडक्ट का demo आसानी से live video द्वारा अपने audience के साथ शेयर कर सकते है और उनके साथ तर्क वितर्क कर सकते है.

अपने वेबिनार मै आप अपने प्रोडक्ट का फायदा, नुकसान बता सकते है और अपने consumer को यह भी बता सकते की आपका प्रोडक्ट उनको कैसे मदत कर सकता है, इससे आपके प्रोडक्ट की बिक्री बढ़ सकती है.

4. Paid advertisement करे (Do Paid Advertisment)

अगर आपको यह लग रहा है की आपका एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate marketing in Hindi) का बिज़नेस अच्छा चल रहा है और आपको इससे थोड़े बहुत पैसे भी मिल रहे है तो आप paid advertisement करके अपना बिज़नेस और भी बड़ा सकते है.

इसमें आप पैसे देखर अपने वेबिनार का ad बना सकते है और ज्यादा से ज्यादा लोगो को अपना वेबिनार मै रजिस्टर करवा सकते है. इससे आपके कस्टमर्स बढ़ने की क्षमता दुगनी हो जाती है और आपके बिज़नेस का विस्तार हो जाता है. Facebook ads और Google ads ऐसे उदाहरण है जो आपका पेड Advertisement मै मदत कर सकते है.

निष्कर्ष (Conclusion):

उमीद है की यह आर्टिकल ने आपकी एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate marketing in Hindi) को लेकर सारी शंकाए दूर कर दी हो और आपकी सही मायने मै मदत की हो. अगर आपके मन मै कोई भी प्रश्न है तो आप हमे अपने कमैंट्स द्वारा बता सकते है और हम आपको जल्द से जल्द रिप्लाई करेंगे.

ये भी पढ़े
खुदका ब्लॉग कैसे बनाये?
गेम्स खेलकर पैसे कैसे कमाए?
मीशो एप्प से पैसे कैसे कमाए?

Share

Leave a Comment