Index Fund क्या है? इसमें निवेश कैसे करे? पूरी जानकारी

दोस्तों यदि आप म्यूच्यूअल फण्ड और स्टॉक मार्किट में निवेश करते है तो आपने इंडेक्स फण्ड के बारे में जरूर सुना होगा. बहुतसे लोगो के मन यह सवाल होता है Index fund kya hai? और एक म्यूच्यूअल फण्ड और इंडेक्स फण्ड क्या फरक है? और क्या ये म्यूच्यूअल फण्ड से बेहतर है? इसमें निवेश कैसे करे यह इन सारी सवालो की जानकारी हम इस पोस्ट के अन्दर लेंगे ताकि आप एक इंडेक्स फण्ड, म्यूच्यूअल फण्ड, ETF के बारे में जान सके और आपको निवेश करने में हेल्प मिल सके.

दोस्तों इंडेक्स क्या होता है यह आपको तो पता ही होगा, भारत में दो प्रमुख स्टॉक मार्किट इंडेक्स है एक सेंसेक्स और दूसरा निफ्टी ५०.

सेंसेक्स में बीएसई पर लिस्टेड 30 सबसे बढे प्रमुख कंपनी का कलेक्शन या लिस्ट होता है, जो हमे उसमे उपलब्द सारी कंपनी के स्टॉक्स का एवरेज परफॉरमेंस को दर्शाता है. जैसे की सेंसेक्स में BSE की 30 बड़ी कंपनी का लिस्ट होता है ऐसे ही nifty में NSE पर लिस्टेड ५० का लिस्ट होता है.

इसी तरह कही प्रकार के इंडेक्स होते है जैसे की निफ्टी सेक्टर इंडेक्स का ही उधाहरण ले तो उसमे भी बैंक निफ्टी इंडेक्स, ऑटो निफ्टी इंडेक्स, IT निफ्टी इंडेक्स अधि.

यदि आपको Index के बारे में अधिक जानना है तो आप Basics of Share market in Hindi इस पोस्ट को पढ़ सकते है.

अब देखते है, Index fund क्या होता है? (Index Fund in Hindi),

Index fund kya hai? (What is Index fund in Hindi)

जिस तरह म्यूच्यूअल फण्ड हमारे पैसे को अलग अलग कंपनी के शेयर में निवेश करके हमें अच्छा रिटर्न्स देने की कोशिश करता है. उसी तरह इंडेक्स फण्ड भी यह एक म्यूच्यूअल फण्ड ही होता है लेकिन फर्क सिर्फ इतना है की यह किसी एक इंडेक्स पर आधारित होता है, और इंडेक्स फण्ड उस इंडेक्स में लिस्ट सारी कंपनीयों में उसी रेश्यो में निवेश करता है जिस weightage रेश्यो में वो कंपनी उस इंडेक्स में प्रेजेंट होती है.

ये भी पढ़े: Portfolio क्या है? अपना खुदका पोर्टफोलियो बनाना सीखे…

इंडेक्स फण्ड काम कैसे करता है? (How does an index fund works)

जैस की हमने देखा की इंडेक्स फण्ड किसी एक इंडेक्स पर आधारित होता है. यानि हम ऐसा भी बोल सकते है की इंडेक्स फण्ड उस इंडेक्स का रेप्लिका होता है.

उधारण से देखे तो, यदि एक इंडेक्स फण्ड सेंसेक्स पर आधारित है तो वो इंडेक्स फण्ड सेंसेक्स में शामिल सभी 30 कंपनी में उसी रेश्यो में निवेश करेगा जिस रेश्यो में वो सेंसेक्स में प्रेजेंट होती है.

यदि इंडेक्स से कोही कंपनी निकल जाती है और उसकी जगह नयी कंपनी का समावेश होता है तो इंडेक्स फण्ड में भी उस कंपनी के शेयर से निवेश निकाला जायेगा और जो नयी कंपनी का इंडेक्स में समावेश किया है उसके शेयर में निवेश किया जायेगा.

जैसे की आम म्यूच्यूअल फण्ड में हर वक्त फण्ड से निवेश किया हुए स्टॉक्स को ट्रैक किया जाता है, उनका रिसर्च और एनालिसिस किया जाता है, नए स्टॉक्स को ढूंडा जाता है. क्यों की वो बेंचमार्क को बिट करके जादा रिटर्न्स दे पाए. लेकिन जिसके लिए उन्हें कही लोगो की टीम को रखनी होती है. इस तरह के म्यूच्यूअल फंड को एक्टिव म्यूच्यूअल फण्ड कहते है. जिनका एक्सपेंस रेश्यो जादा होता है लगबग १-2 % होता है.

लेकिन इंडेक्स फण्ड यह पैसिव म्यूच्यूअल फण्ड होता है, जैस की इंडेक्स फण्ड किसी एक इंडेक्स की रेप्लिका है, जिसकारण उसे मैनेज करने के लिए इतनी बड़ी टीम की आवश्कता नहीं होती है. जिसकारण इसका एक्सपेंस रेश्यो भी एक्टिव म्यूच्यूअल फण्ड के मुकाबले बहुत कम (लगबग ०.१ % ) होता है.

म्यूच्यूअल फण्ड और इंडेक्स फण्ड में क्या फरक है? (Mutual Fund Vs Index Fund in Hindi)

१. जैसे की हम आम म्यूच्यूअल फण्ड इ में निवेश करते है, तो हमारा सारा पैसे इकट्टा किया जाता है, उसके बाद फण्ड मेनेजर निश्चित करता है उस पैसे को किदर निवेश करना है, कोनसा स्टॉक्स खरीदना है या बेचना है. और ये Portfolio Rebalancing प्रोसेस लगातार चालू ही रहेती है.

जिसके लिए उसे रिसर्च और एनालिसिस करने के लिए उसके पास बहुत बड़ी टीम को रखनी होती है. जिसकारण उनपर भी बहुत जादा पैसे खर्च होते है, इस प्रकार के म्यूच्यूअल फण्ड को एक्टिव म्यूच्यूअल फण्ड / Active form of investing कहते है और इनका एक्सपेंस रेश्यो जादा होता है (लगबग १.५ % – 2%)

लेकिन यदि हम इंडेक्स फण्ड की बात करे तो यह Passive form of Investing होती है. फण्ड मेनेजर को यह कुछ जादा देमाग नहीं लगाना होता है. उन्हें सिर्फ किसी एक इंडेक्स को ही फॉलो करना होता है.

और Portfolio Rebalancing की बात करे तो हमने देखा की म्यूच्यूअल फण्ड में तो पोर्टफोलियो रिबैलेंसिंग तो चलती रहती है. जो की कंपनी, सेक्टर या इकॉनमी की परफॉरमेंस, बहुत से चीजो पर निर्भर होती है. लेकिन इंडेक्स फण्ड वैसा नहीं होता है, इंडेक्स में जीतनी कंपनी लिस्टेड है उनमे ही अनिवार्य निवेश करना होता है.

लेकिन यदि quarterly यदि इंडेक्स फण्ड की सूचि में बदल किया है किसी कंपनी का नया समावेश किया है या किसी कंपनी को सूचि से निकाला है. तभी फण्ड मेनेजर पोर्टफोलियो में उसके अनुसार बदल करता है, यह भी जब जरूरत हो तो.

तो अपने देखा की इंडेक्स फण्ड में फण्ड मेनेजर को इतनि तो मेहनत नहीं करनी होती है और उसे बहुत बड़ी टीम की आवश्यकता नहीं होती है इस कारन इसका एक्सपेंस रेश्यो भी बहुत (०.१ % से कम) होता है.

ये भी पढ़े: निवेश के लिए विकल्प: Types of investment in Hindi?

इंडेक्स फण्ड में निवेश करने के फायदे:

Benefits of investing in index funds in Hindi

  1. इंडेक्स फण्ड में एक्टिव म्यूच्यूअल फण्ड के मुकाबले एक्सपेंस रेश्यो कम होता है
  2. इसमें एक स्टॉक्स में पैसे लगाने के वजाए इंडेक्स में मौजूत सभी कंपनी के स्टॉक्स में पैसे लगाये जाते है. जिससे Portfolio diversify हो जाता है.
  3. इंडेक्स फण्ड में निवेश करने के लिए जादा रिसर्च करने की जरूरत नहीं होती है. जिस कारण जीन लोगो को मार्किट का नॉलेज नहीं है या टाइम नहीं है उन्हें इसमें निवेश करना फायदेमंद हो सकता है.

इंडेक्स फण्ड में निवेश कैसे करे?

How to invest in index fund?

वैस देखा जाये तो इंडेक्स फण्ड में निवेश करने के लिए आपको demat account की जरूरत नहीं होती है. आप किसी म्यूच्यूअल फण्ड के कोही भी अप्प से भी निवेश कर सकते है. म्यूच्यूअल फण्ड के लिए बहुत से एप्प मार्किट है जैसे की ज़ेरोधा कॉइन, PayTm money, Groww App etc.

लेकिन यदि आप demat account open करेंगे तो अच्छा रहेगा. क्युकी demat account से आप दुसरे भी सुविधा का फायदा ले सकते है. जैसे की ETF का भी आप्शन उसमे हमें मिल जाता है. साथ ही आप सीधे स्टॉक मार्किट में भी निवेश कर सकते है.

निष्कर्ष (Conclusion):

इस पोस्ट में हमने जाना की Index fund यह एक प्रकार के Passive form of investment होती है फरक बस इतना है की इसमें किसी एक इंडेक्स में शामिल सभी कंपनी में निवेश करता है. जिस कारण एक्सपेंस रेश्यो भी एक्टिव म्यूच्यूअल फण्ड के मुकाबले काफी कम होता है. और यह म्यूच्यूअल फण्ड के लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है.

तो दोस्तों उम्मीद करता हु की यह पोस्ट Index fund kya hai? (Index fund in Hindi) से इंडेक्स फण्ड के बारे में काफी जानकारी मिली होगी. यदि आपके इस पोस्ट के प्रति कुछ भी सवाल है तो कमेंट करके जरूर बताये. और यह पोस्ट अपने दोस्तों को भी शेयर करे.

ये भी पढ़े:
IPO Grey Market क्या है? पूरी जानकारी
Passive Income Ideas List 2022: पैसिव इनकम क्या है कैसे करे?
Saving vs Current Account सेविंग और करंट अकाउंट में क्या अंतर होता है?

References:
https://www.investopedia.com/terms/i/indexfund.asp
https://cleartax.in/s/index-funds-etfs
https://en.wikipedia.org/wiki/Index_fund

Share

2 thoughts on “Index Fund क्या है? इसमें निवेश कैसे करे? पूरी जानकारी”

Leave a Comment